जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता लगाएं | Jamin Par Loan Hai Ki Nahi Kaise Pata Lagaye

दोस्तों अगर आप भी कोई जमीन खरीदने की सोच रहे है तो जमीन खरीदने से पहले ये जरूर जान लें के उस जमीन पर पहले से कोई लोन तो नहीं है. 

पर दोस्तों अगर आपको भी नहीं पता के जमीन पर लोन है या नहीं तो इसमें परेशां होने की कोई बात नहीं है. आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे के जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता लगाएं (Jamin Par Loan Hai Ki Nahi Kaise Pata Lagaye).

दोस्तों कोई भी जमीन, फ्लैट, घर या प्रॉपर्टी लेना एक इंसान के लिए सबसे बड़ी खुशी की बात होती है, इंसान अपनी पूरी जिंदगी की जमा पूंजी लगा देता है. पर अगर उसी जमीन पर कोई परेशानी आ जाये तो उससे बड़ी दुःख की बात कुछ नहीं होती।

कई बार देखा गया है के लोग एक ही जमीन को बार बार अलग अलग लोगो को बेक देते हैं. अलग अलग बैंको से लोन ले लेते है और बिना किश्त चुकाए फिर उस प्रॉपर्टी को किसी और को बेक देते है. और फिर उस किष्त को दूसरे आदमी को भरना पड़ता है. अगर आप भी ऐसी ही किसी परेशानी से बचना चाहते है तो आपके लिए ये जरूरी ह जाता है के पहले से ही जान ले के आप जिस जमीन को खरीदने वाले है उस पर जमीन पर लोन है या नहीं।

आज के इस पोस्ट में हम कुछ तरीके बतायंगे जिससे आप जान पायंगे के जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता लगाएं।

जमीन पर लोन है या नहीं पता करने के काफी सरे तरीके है,उन्ही तरीको को आज हम इस पोस्ट में जानेंगे।

दोस्तों अगर आप अपनी पूरी जमा पूंजी लगा रहे है किसी भी प्रॉपर्टी में तो उससे पहले थोड़ी सी मेहनत ये जानने में भी कर ले के आपके साथ कोई फ्रॉड तो नहीं हो रहा। 

क्यूंकि बाद में परेशांन होने से अच्छा है पहले ही थोड़ी छान बीन कर ली जाये।

चलिए जानते है जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता लगाएं?

जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता लगाएं?

जमीन पर लोन लेने से पहले कुछ लोग वकीलों से सलाह लेते है तो कुछ लोग तहसील जाकर प्रॉपर्टी के कागजात चेक करवाते है, तो कुछ लोग रजिस्ट्री ऑफिस में भी पता करते है.

जमीन पर लोन है या नहीं इसको पता लगाने का सबसे अच्छा तरीका ये है-

  • प्रॉपर्टी का कानूनी सत्यापन (Legal Verification Of Property)
  • रजिस्ट्री कार्यालय में जाकर 
  • संपत्ति का ऑनलाइन सत्यापन (Online Verification Of Property)
  • प्रॉपर्टी का कानूनी सत्यापन (Legal Verification Of Property)
  • वकीलों के द्वारा जो तैयार की जाती है Legal Opinion वो एक बहुत पुराना तरीका है, 

इस में जमीन से संबंधित सरे दस्तावेज जैसे ऋणभार प्रमाण पत्र (Encumbrance Certificate), बिक्री विलेख (Sale Deed), शीर्षक और पंजीकरण प्रमाण पत्र, एल.पी.सी आदि प्राप्त होते हैं,

बैंक भी लोन देने से पहले Legal Opinion देख कर ही लोन देते है. 

  • रजिस्ट्री कार्यालय में जाकर 

जब भी हम कोई प्रोपेरी लेते है तो उसका पूरा लेखा जोखा रजिस्ट्री कार्यालय में उपलब्ध होता है, आप ऋण रजिस्ट्री पेपर में देख कर भी पता लगा सकते है के जमीन पर लोन है की नहीं।

इसके लिए आपको रजिस्ट्री कार्यालय से संपत्ति का विवरण (7/12 रिकॉर्ड, पंजीकरण प्रमाण पत्र) पलेना होगा और फिर आप खुद भी देख सकते है. इस पेपर में लिखा होता है लोन है की नहीं जमीन पर पहले से ही.

  • संपत्ति का ऑनलाइन सत्यापन (Online Verification Of Property)

एक जो सबसे सरल तरीका है वो ये है के आप ऑनलाइन भी चेक कर सकते है के जमीन पर पहले से लोन है या नहीं। 

इसके लिए आपको सरकारी एक वेबसाइट पर जाकर चेक करना होगा, जिसका नाम है CERSAI (सेंट्रल रजिस्ट्री ऑफ सिक्योरिटाइजेशन एसेट रिकंस्ट्रक्शन एंड सिक्योरिटी इंटरेस्ट). ये भारत की केंद्रीय वेबसाइट है. ये साइट इस लिए बनाई गयी है जिस की मदत से आप ये चेक कर सकते है के किसी जमीन पर पहले से लोन है की नहीं।

CERSAI पर जमीन पर लोन है की नहीं कैसे चेक करे?

इस लिए पहले CERSAI की साइट पर जाना होगा।

वहा पर आपको 2 ऑप्शन दिखाई देंगे।

Jamin Par Loan Hai Ki Nahi Kaise Pata Lagaye1
  • पहला Public Search – Asset Based 
Jamin Par Loan Hai Ki Nahi Kaise Pata Lagaye2
  • दूसरा Public Search – Debtor  Based 
जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता लगाएं

Public Search – Asset Based – इसमें आप संपत्ति की जानकारी भर के संपत्ति के बारे में  प्राप्त कर सकते है.

Public Search – Debtor  Based – इसमें आपको ऋण की जानकारी भरनी होगी उसके बाद आपको पता चल पाएगा के अभी ऋण की क्या स्तिथि है.

इनको भी पढ़े –

जमीन पर लोन कैसे ले –

आधार कार्ड से लोन कैसे ले

गूगल पे से लोन कैसे ले

ऋण वेरिफिकेशन के लिए जरूरी दस्तावेज

निचे अब जिन दस्तावेजों के बारे में बताने जा रहा हु वो भी आपको जमीन पर लोन है की नहीं कैसे पता लगाए इसमें काफी मदत करते है. एक बार इनपर भी नजर डालिये।

बिल्डिंग अप्रूवल प्लान – ये आपको आपकी लोकल विकास प्राधिकरण द्वारा दिया जाता है, इसमें ये लिखा होता है के ये संपत्ति किसके नाम पर है, कितने पार्टनर्स है इसमें, संपत्ति ऋण द्वारा खरीदी गयी है या बिना ऋण के.

लाइसेंस्ड प्रोफेशनल काउंसलर – ये राज्य सर्कार द्वारा दिया जाने वाला सर्टिफिकेट है, इससे ये पता चलता है के जमीन का मालिक कौन है.

टाइटल डीड – इसी प्रमाण पत्र से या मालूम होता है के जमीन पर मालिकाना हक़ कितने लोगो का है.

सेल डीड – इसमें ये जानकारी होती है के एक जमीन को किसने किसको बेचा है और कितनी राशि में. और इसमें साडी नियम शर्ते भी लिखी होती है.

ये कुछ ऐसे दस्तावेज है जिनकी मदत से आप ये पता लगा सकते है के जमीन पर लोन है या नहीं।

निष्कर्ष 

दोस्तों आशा करता हु आपके सवाल जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता लगाएं? इसका उत्तर आपको मिल गया होगा। 

जब भी आप कोई जमीन ले उससे पहले बस उसके बारे में सभी चीजे जरूर पता करले जैसे जमीन पर लोन है की नहीं, कोई Case तो नहीं है जमीन पर, कागजात पुरे है या नहीं जमीन के, सरकार से अप्प्रोवे है की नहीं आपकी जमीन, कोई अवध कब्ज़ा तो नहीं है, बैंक से ऋण तो नहीं है. 

जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता लगाएं? इससे जुड़ा अगर अभी भी कोई सवाल आपके मन में है तो मुझे निचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताये। मई आपकी पूरी सहायता करने की कोशिश करूँगा।

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap